Savera Bollywood

www.SaveraBollywood.com

सुशांत गरीबों की मदद के लिए बना रहे थे मोबाइल ऐप, डेनमार्क बेस्ड आन्त्रप्रेन्योर ने किया खुलासा

आर्टिफिशल इंटेलिजेंस पर आधारित एक मोबाइल ऐप डिवेलप कर रहे थे। यह जानकारी डेनमार्क बेस्ड सिंह-आंत्रप्रेन्योर एरियन रोमल ने दी। यह ऐप गरीबों की मदद के लिए था। रोमल ने सुशांत के साथ एक पार्टी का भी जिक्र किया जहां उन्होंने शराब पीने से मना कर दिया था। बताया कि वह अपनी डायट को लेकर कितने स्ट्रिक्ट थे।

रोमल ने सवाल किया- 2020 तक तो बन गया होगा, कहां है ऐप?
रोमल ने आईएएनएस को बताया कि सुशांत आर्टिफिशल इंटेलिजेंस या AI का इस्तेमाल करके भारत के गरीबों की मदद करने का प्लान कर रहे थे। उन्होंने बताया, बीते साल मुंबई में मार्च या अप्रैल के आसपास आखिरी बार मैं सुशांत से मिला था। उस वक्त हमारे बीच टेक्नॉलजी पर बात हुई थी। उन्होंने एक मोबाइल अप्लिकेशन डिवेलप करने का प्लान किया था। 2020 तक उन्होंने जरूर कुछ बना लिया होगा। वह कहां गया? वह AI का इस्तेमाल करके कुछ बनाने का प्लान कर रहे थे, जिससे भारत के गरीबों को मदद मिलती। उन्होंने इस पर बात की थी लेकिन ज्यादा खुलासा नहीं किया था क्योंकि ये उनका आइडिया था और इसके चोरी होने का डर था। लेकिन उन्होंने मुझे कॉन्सेप्ट बताया था। उनका उद्देश्य इस ऐप से गरीबों की मदद करना था।

ड्रग अडिक्ट नहीं हो सकते सुशांत, मौत के पीछे है रहस्य
रोमल बताते हैं, कुछ लोग होते हैं जो आप पर छाप छोड़ जाते हैं, वह उन्हीं लोगों में से थे। मैं ऐप्स बनाने के काम में रहा हूं, इसलिए मुझे ये बातचीत बहुत इंट्रेस्टिंग लगी थी। वह अलग इंसान थे। किसी ऐक्टर के पास इतना नॉलेज होना हैरान करने वाली बात है। एरियन कुछ साल से भारत आते रहे हैं। उन्होंने कुछ हिंदी गाने कम्पोज और प्रड्यूस भी किए हैं। उनका मानना है कि उन्होंने सुशांत को जितना भी देखा, वह ड्रग अडिक्ट नहीं हो सकते थे। उन्होंने कहा कि उनकी मौत के पीछे कोई रहस्य जरूर है जो सामने आना चाहिए।

पार्टी में लेकर आए थे अपना टिफिन, नहीं पी थी शराब
रोमल 4 साल पुरानी बात याद करते हुए बताते हैं, मैं बाहर रहता हूं लेकिन कई साल पहले मैं उनसे मिला था। उस टाइम वह मलाड में रहते थे। तब मैं पहली बार उनसे मिला था और यह किसी टेलिविजन ऐक्टर की पार्टी थी। मैं ड्रिंक लेकर सुशांत के बगल में बैठा था, मुझे उस वक्त पता भी नहीं था कि वह कौन हैं। मैंने उनसे ऐसे ही पूछा- भाई तुम्हारा ड्रिंक कहां है? उन्होंने कहा, ‘नहीं भाई मैं अपना डायट मील ले रहा हूं’ वह अपना टिफिन बॉक्स लेकर आए थे जिसमें बॉइल्ड चिकन था। वह वहां डायट मील खाने वाले अकेले इंसान थे जबकि बाकी सब ड्रिंक वगैरह के साथ एंजॉय कर रहे थे। मेरे जोर देने पर भी उन्होंने ड्रिंक नहीं लिया और कहा कि इससे मेरे रोल की तैयारी पर असर पड़ेगा। मुझे तभी लगा था कि ये इंसान अपने काम और डिसिप्लिन का कितना पक्का है।

Close Bitnami banner
Bitnami